Farq Bas Itna Hai Wo Aankhon Mein Hai Ye Dil Mein Hai.

बहुत बेबाक आँखों में ताल्लुक टिक नहीं पाता,
मोहब्बत में कशिश रखने को शर्माना जरूरी है।

Bahut Bewaak Aankhon Mein Taalluk Tik Nahi Pata,
Mohabbat Mein Kashish Rakhne Ko Sharmana Jaroori Hai.

कभी बैठा के सामने पूछेंगे तेरी आँखों से,
किसने सिखाया है इन्हें हर दिल में उतर जाना।

Kabhi Baitha Ke Samne Puchhenge Teri Aankhon Se,
Kisne Sikhaya Hai Inhein Har Dil Mein Utar Jana.

एक सी शोखी खुदा ने दी है हुस्नो-इश्क को,
फर्क बस इतना है वो आँखों में है ये दिल में है।

Ek Si Shokhi Khuda Ne Di Ha Husno-Ishq Ko,
Farq Bas Itna Ha Wo Aankhoon Mein Ha Ye Dil Mein Ha.

मस्त आँखों पर घनी पलकों की छाया यूँ थी,
जैसे कि हो मैखाने पे घरघोर घटा छाई हुई।

Mast Aankhoon Par Ghani Palkon Ki Chhaya Yun Thi,
Jaise Ki Ho Maikhane Pe Ghanghor Ghata Chhayi Huyi.

लोग कहते हैं जिन्हें नील कंवल वो तो क़तील,
शब को इन झील सी आँखों में खिला करते है।

Log Kehte Hain Jinhein Neel Kanwal Wo To Qateel,
Shab Ko Inn Jheel Si Aankhoon Mein Khila Karte Hain.

Leave a Reply